Dalit youth hanged on village panchayat’s order in UP

(Translated from a Navbharat Times news report in Hindi into English by Atul Anand. The original Hindi text of the report follows the translation)

Bulandshahr (UP): Lala, a Dalit youth from Nagla Chona village in Gautam Buddhnagar, was hanged on Tuesday following the village panchayat’s order. Inder, the father of the deceased, alleges that initially, the panchayat ordered that his son be beaten up, but later they turned it into a death sentence. Lala was hanged from a sheesham (Indian rosewood) tree. He was alleged to have an extramarital affair with an upper caste woman of Nagla Tota village in Bulandhshahr. The members of the panchayat and the woman’s husband are absconding. The police is calling it a case of suicide.

bulandhahr lala 2

Lala, son of Inder, fell in love with the woman and eloped with her six months ago to Dehradun. They stayed there for a while but later the woman returned to her husband. On Tuesday evening, Lala came to meet the woman in her village. It is alleged that the husband of the woman caught them and called for a meeting of 10-20 people. Allegedly, the panchayat first ordered that Lala be beaten up and then they decided that he should be hanged. Later the police, which was informed about the incident, took down Lala’s body and sent it for post mortem.

Inder, the father of the deceased, stated before the police that the husband of the woman and his relatives have murdered his son because of their caste backgrounds. The police is calling it a case of suicide. Kotwali in-charge R P Singh says the woman, who had eloped with Lala, later returned to her husband and then the disheartened Lala committed suicide by hanging himself from the tree. However the relatives of the deceased have given a written complaint against the panchayat members and the husband.

कोतवाली देहात के एक गांव में पंचायत के फरमान के बाद एक दलित युवक को फांसी पर चढ़ा दिया गया है। आरोप है कि युवक को गांव के एक शख्स की पत्नी के साथ पाया गया था। महिला के पति ने उसे पकड़ लिया और गांव में पंचायत बैठा दी। मारे गए युवक के पिता का आरोप है कि पंचायत ने प्रेमी को पहले पीटने का फरमान सुनाया और फिर उसे फांसी की सजा मुकर्रर कर दी। शीशम के पेड पर फांसी दी गई। फांसी देने वाले पंचायती और महिला का पति फरार बताए जा रहे हैं। पुलिस इसे आत्महत्या का मामला बता रही है।

गौतम बुद्धनगर के गांव नगला चोना निवासी इंदर के बेटे लाला का बुलंदशहर के गांव नगला टोटा की एक महिला से प्यार हो गया था। दोनों 6 महीने पहले घर से फरार हो गए थे। वे कुछ दिन देहरादून में रहे और फिर कुछ दिन बाद महिला अपने पति के घर आकर रहने लगी। मंगलवार की शाम को महिला से मिलने लाला उसके गांव आ गया।

कोतवाली देहात के एक गांव में पंचायत के फरमान के बाद एक दलित युवक को फांसी पर चढ़ा दिया गया है। आरोप है कि युवक को गांव के एक शख्स की पत्नी के साथ पाया गया था। महिला के पति ने उसे पकड़ लिया और गांव में पंचायत बैठा दी। मारे गए युवक के पिता का आरोप है कि पंचायत ने प्रेमी को पहले पीटने का फरमान सुनाया और फिर उसे फांसी की सजा मुकर्रर कर दी। शीशम के पेड पर फांसी दी गई। फांसी देने वाले पंचायती और महिला का पति फरार बताए जा रहे हैं। पुलिस इसे आत्महत्या का मामला बता रही है। आरोप है कि युवक और महिला को पति ने देख लिया और गांव के 10-20 लोग बुलाकर पंचायत बैठा दी। आरोप है कि पंचायत ने प्रेमी को पहले पीटने की सजा सुनाई और फिर उसे फांसी दे दी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने लाला का शव पेड से उतारकर पंचनामा भरा और पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

मृतक के पिता इंदर और अन्य परिजनों ने पुलिस के सामने महिला के पति और उसके परिजनों पर हत्या की बात कही। इन्होंने कहा कि पंचायत ने पहले पीटने का और फिर फांसी पर लटकाने का हुक्म दिया था। आरोपियों ने शीशम के पेड पर प्रेमी को लटकाकर इस लिए मार डाला क्योंकि महिला ऊंची जाति की है और मृतक दलित परिवार का था। लेकिन कोतवाली देहात की पुलिस आत्महत्या बता रही है। कोतवाली इंचार्ज आरपी सिंह का कहना है कि जिस महिला को मृतक लाला ले गया था, वह उसे छोड़कर अपने पति के पास आ गई। इसी गम में लाला ने पेड पर लटककर आत्महत्या कर ली। जबकि मृतक के परिजनों ने पंचायतियों और महिला के पति के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है।

[Courtesy: Navbharat Times, November 27, 2014]

#naglachona #uttarpradesh #dalityouth #hanged #panchayat #honourkilling

Advertisements

One thought on “Dalit youth hanged on village panchayat’s order in UP”

Share your thoughts

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s